​पुरानीबस्ती पर प्रकाशित सभी ख़बरें सिर्फ अफवाह हैं, किसी भी कुत्ते और बिल्ली से इसका संबंध मात्र एक संयोग माना जाएगा। इन खबरों में कोई सच्चाई नहीं है। इसे लिखते समय किसी भी उड़ते हुए पंक्षी को बीट करने से नहीं रोका गया है। यह मजाक है और किसी को आहत करना इसका मकसद नहीं है। यदि आप यहाँ प्रकाशित किसी लेख/व्यंग्य/ख़बर/कविता से आहत होते हैं तो इसे अपने ट्विटर & फेसबुक अकाउंट पर शेयर करें और अन्य लोगों को भी आहत होने का मौका दें।

ट्वीट चोरी और सेलेब

दो महीने पहले जब मैं ट्विटर पर आया तो यहां पर एक अलग दुनिया से मिला। ट्विटर सेलेब की दुनिया - इसका मतलब ये लोग आम जिंदगी में कुछ भी हो परंतु यहां पर अपने ट्वीट के दम पर उन्होंने अपने फैन बनाये (ऐसा मेरा शुरवाती मानना था - जो काफी हद तक सही है). दिन-रात ताजा समाचारो पर ढाई किलो के ट्वीट और गजोधर भैया की तरह चुटकुला बनाना हो या आवारगी की तरह शायरी लिखना हर कोई लोगो का मनोरंजन कर रहा है यहां। अपने काका भी पुष्पा के चक्कर में दिन रात फोटो बदलते रहते है 

ट्विटर सेलेब की सबसे बड़ी परेशानी है की हर कोई उनसे फोल्लोबैक मांगता है कब तक फोल्लोबैक देंगे। सेलेब ने मेहनत करके फॉलोवर कमाए है तो किसी भी ऐरे गैरे को क्यों फॉलो कर ले। सेलेब बनने के बाद इन्हे भी थोड़ी अक्कड़ आ गई है, जबकि जब भी आप "मुर्दे अकड़ते है" इस ट्वीट को लिखेंगे हर कोई आपको आरटी और फेवरेट देगा। यहाँ पर सारा बवाल आरटी और फेवरेट के चक्कर में होता है, जो सेलेब जैसा ट्वीट नहीं कर सकता उसने सेलेब का ट्वीट चुराना चालू कर दिया और अपनी टाइम लाइन पर पेस्ट करके फॉलोवर बटोरने चालू कर दिया।

अपने पागलपंती भाई ट्वीट चोरी के सबसे बड़े शिकार है, उनकी स्टोरी अंडर १४० प्रायः चोरी करके लोग अपने टाइम लाइन पर चेप देते है। यहां पर एक साहब आधिकारिक तौर पर चोरी के ट्वीट ले जाते है और उनका नाम है चोरी के ट्वीट। अपना दरोगा चिंगम दिन रात बन्दुक लेकर घूमता रहता है पर इन चोरो का कुछ नहीं कर पाता, चिंगम खूद दिन रात इतने कानून तोड़ता है जिसकी कोई सीमा नहीं है। ट्वीट कोई चूराकर ना ले जा सके उसका एक ही रास्ता है की हम ट्वीट जावा या एचटीएमएल में लिखे पर ये ध्यान रखना यहाँ पर आधे से ज्यादा इंजीनियर है।

यहां पर हर वो काम होता है जो हकीकत में होता है। चाहे किसीको मास ब्लॉक करना हो या चाहे किसी की ट्वीट को मास आरटी करना। हर कोई अपने ट्वीट को सुपर हिट बनाने में पूरी ताकत लगा देता है। चाहे लोग उसे कितना भी डीएम लिंक भेजने के लिए गली दे दे। आरटी के इस खेल में लोग फेवरेट से डरते है। जो चोरी के ट्वीट भी नहीं लिख पाते वो बड़े बड़े लेखको और कविओ की रचना अपने नाम से चेपते रहते है। पुरानी बस्ती पर एक केस इस लिए हो गया क्योंकि उन्होंने अशोक चक्रधर की पंक्ति "रिक्शावाले को बुलाया तो वो लंगड़ाते हुआ आया" लिख दिया था और एक सेलेब को िसकर श्रेय दे दिया था और जिस साहब ने केस दाखिल किया था उनका कहना ये था की इसे सबसे पहले मैंने लिखा है और आपने मेरा ट्वीट चुरा लिया।

सरकार बनाने के लिए जितनी मेहनत होती है उतनी मेहनत सेलेब बनाने में होती है, एक साहब अपने घर पर माँ बाप को नमस्ते नहीं करते होंंगे परंतु यहाँ सेलेब की चापलूसी करके खूब आरटी और फॉलोवर बटोर रहे है। कुछ लोग इनसे भी चार कदम आगे निकालकर पहले ४००० लोगो को फॉलो किया और जब सबसे फॉलोबैक मिल गया तो सबको अनफॉलो करके सेलेब बन गए है। अपने पागलपंती आज ही बता रहे थे की उन्हें डीएम में किसी को ब्लॉक करने के लिए संदेश आया है। सब कुछ हमारी हकीकत की दुनिया जैसा सिर्फ सेलेब ट्विटर के है।

असल जिंदगी में जितने अनुपात में बाबा होंगे उससे अधिक अनुपात में आपको यहाँ पर बाबा मिल जायेंगे। हर कोई बाबा बनकर लोगो को झांसा देकर बड़ा सेलेब बनना चाहता है ठीक हकीकत की दुनिया जैसा।फिलहाल चलता हूँ चलते रहिये - ये लाइन भी एक मसहूर शायर की है जिसे अक्सर लोग किसी समाचार वाले की लाइन बताकर कॉपी राइट के पैसे मांगने आ जाते है। कुछ सेलेब ऐसे भी जो यदि लोगो को आरटी और फेवरेट देना बंद कर दे तो उनकी दुकान कल ही बंद हो जाएगी। मेरे कुछ मित्रो का नाम इस लेख में नहीं लिख पाया हूं क्षमा करे, आगे आपके नाम वाला भी लेख लेकर आऊंगा। ……फिलहाल चलता हूं - चलते रहिए - कुछ नया सीखेंगे हर कदम - क्योंकि 
रुका पानी भी गन्दा हो जाता है।

इस लेख का भाग एक पढने के लिए यहाँ क्लिक करे - ट्वीट चोर और सेलेब भाग 2

अगले सोमवार फिर मिलेंगे एक नई रचना के साथ। अपनी पुरानी बस्ती में आते रहना।

3 टिप्‍पणियां: